Anna Mani Biography in Hindi

  Anna mani Biography In Hindi  

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल में (Anna Mani Biography in Hindi)  अन्ना मणि की जीवनी के बारे में बात करेंगे जो की भारत की आदर्श महिला और वैज्ञानिक रही है

 

Anna Mani Biography In Hndi

Anna Mani Biography In Hndi

Anna Mani ka jivan parichay

नाम अन्ना मणि
माता/पिता का नाम ज्ञात नहीं
धर्म ईसाई
जन्म 23 अगस्त 1918
जन्म स्थान पीरूमेडू , केरला
मृत्यु 16 अगस्त 2001 (82 वर्ष)
शिक्षा बीएससी ऑनर्स
नागरिगता भारतीय
कार्य क्षेत्र भौतिकी विज्ञान और मौसम विज्ञान
Anna Mani Biography in Hindi

Anna Mani Kon Thi ?

अन्ना मणि एक भारतीय महिला थी, वे भारतीय भौतिक एवं मौसम वैज्ञानिक थी। वे भारत के मौसम विभाग की उपनिदेशक थी जिन्होंने  मौसम विज्ञान उपकरणों के क्षेत्र में अपना योगदान दिया है। साथ में उन्होंने सौर विकिरण , ओजोन और पवन ऊर्जा मापन  के विषय में भी अनुसंधान किया है एवं कई शोध पत्र प्रकाशित किये है।

 

Anna Mani का प्रारम्भिक जीवन

अन्ना मणि का जन्म केरला राज्य के पीरूमेडू क्षेत्र में 23 अगस्त 1918 को हुआ था। उनका जन्म एक ईसाई परिवार में हुआ था। उनके पिता एक सिविल इंजीनिअर थे। वह अपने परिवार में सातवीं संतान थी उन्हें बचपन से ही पढ़ने का शौक था। अन्ना मणि महात्मा गाँधी के राष्ट्रवादी आंदोलन से प्रभावित होकर वे भी खादी कपडे पहनना शुरू कर दिया था। उन्हें  बचपन से भौतिकी क्षेत्र में रूचि होने के कारण उन्होंने यही पढ़ने का निर्णय लिया।

 

Anna Mani का शिक्षण और करियर

अन्ना मणि को भौतिक क्षेत्र में रूचि होने के कारण उन्होंने साल 1939 में चेन्नई के पचैयप्पा कॉलेज से बीएससी ऑनर्स की डिग्री प्राप्त की। वर्ष 1940 में उन्हें भारतीय विज्ञान संस्थान, बैंगलोर में शोध के लिए छात्रवृति मिली। वर्ष 1945 में वे स्कॉलरशिप प्राप्त कर आगे पढाई करने के लिए लंदन चली गयी।

सन 1948 में भारत आने के बाद उन्होंने पुणे में मौसम विभाग में कार्यरत हो गयी थी उन्होंने वहां ब्रिटैन से आने वाले मौसम उपकरणों पर कार्य किया  वे सिर्फ 5 साल तक ही विभाग पर कार्यत थी उसके पश्चात उन्होंने सौर विकिरण मापन के लिए नेटवर्क तैयार करे। तत्पश्चात उन्होंने ओजोन मापन यंत्र भी तैयार किया जिसके कारण उन्हें इंटरनेशनल ओजोन असोसिअन का सदस्य  चुना गया।  सन 1961 में उन्हें दिल्ली स्थानांतरित कर दिया गया  जहा पर  वे उपमहानिदेशक के पद पर कार्यरत रही।1976 में भारतीय मौसम विभाग के उपमहानिदेशक के रूप में भी कार्यरत थी|

 

Anna Mani का रिलेशनशिप

अन्ना मणि शुरू से ही अपनी पढाई में ज्यादा रूचि होने के कारण वे अपनी पढाई  के बाद अपने कार्यो में व्यस्त रहने के कारण उनके मन में  शादी करने का विचार आया ही नहीं  जिसके कारण उन्होंने विवाह नहीं किया। 

 

Anna Mani की उपलब्धिया

जैसा की हमे ज्ञात है कि वह अपने क्षेत्र में हमेशा ही अपने कार्यो में सफल रही है एवं वे रिटायर भी उपनिदेशक के पद पर हुयी थीं। उनके द्वारा  उपकरणों को बनाने के लिए भी उपलब्धि प्राप्त है।  वे अपने क्षेत्र में ख़ास उपलब्धिया हासिल करने के लिए उन्हें 1987 में के आर रामनाथ मैडल से सम्मानित किया गया।

 

Anna Mani का निधन

अन्ना मणि सन 1994 में एक स्ट्रोक से पीड़ित हुयी जिसके कारण उनके स्वास्थ पर असर पड़ा एवं तभी से उनका स्वास्थ गड़बड़ रहने लगा। उन्होंने सन 2001 को तिरुनन्तपुरम में अंतिम साँस ली।

 

Anna Mani Biography in Hindi

अन्ना मणि का प्रथम प्रकाशन द हैंडबुक फॉर सोलर रेडिएशन डेटा फॉर इंडिया था जिसे उन्होंने 1980 में प्रकशित  किया इसके पश्चात उन्होंने  सोलर रेडिएशन ओवर इंडिया 1981 में प्रकाशित की एवं वाइंड  एनर्जी  रिसोर्स सर्वे इन इंडिया 1992 में प्रकाशित किया।

इससे भी पढ़े 

Deepak Chahar Biography In Hindi

 

Deepak Chahar Biography In Hindi | दीपक चाहर का जीवन परिचय

 

FAQ:

Q.अन्ना मणि कौन थी ?

Ans : अन्ना मणि एक भारतीय भौतिक और मौसम वैज्ञानिक थी।

Q.अन्ना मणि का जन्म कब और कहा हुआ था ?

Ans : अन्ना मणि का जन्म 23 augest 1918 को केरला राज्य के पीरूमेडू में हुआ था।

Q.अन्ना मणि को सबसे ज्यादा क्या पसंद था?

Ans : अन्ना मणि को किताबे पढ़ना काफी पसंद था।

Leave a Comment

Best phone under 20000 आपके रोंगटे खड़े होने लगेंगे जल्दी देखे! Redmi 13 सबकी बोलती बंद करने के लिए जल्दी ही लॉन्च किया जाएगा मार्केट में Vivo T3 फोन के Features आपको हैरान करने वाले हैं जल्दी देखे chandrayan 3 कौन है यह खूबसूरत एक्ट्रेस जाने पूरी जानकारी हिंदी में